Health

सूजन में क्या नहीं खाना चाहिए Sujan main kya nahin khana chahie

सूजन में क्या नहीं खाना चाहिए Sujan main kya nahin khana chahie

आज के पोस्ट में हम एक ऐसी बीमारी के बारे में बात करेंगे जो कभी ना कभी किसी ना किसी रूप में प्रत्येक व्यक्ति के शरीर में होती है। उसका नाम है सूजन swelling। इसे हम शुद्ध भाषा में सोथ भी कहते हैं ।सूजन कोई बीमारी नहीं है परंतु कुछ बीमारियों की वजह से यह हो जाता है। कभी-कभी कुछ कीड़े मकोड़े काट लेने से सूजन हो जाती है। कभी-कभी चोट लगने से भी हो सकता है। कभी-कभी बिना किसी वजह के भी हाथ ,पैर ,मुंह और पेट में त्वचा फूल जाती है। इसे दबाने पर पिलपिला सा महसूस होता है। कभी-कभी यह कुछ गलत दवाओं के इस्तेमाल से भी शरीर में सूजन हो जाता है। कभी कबार हमारे खान-पान से भी शरीर में सूजन हो जाता है। अलग-अलग समस्या मैं अलग-अलग तरह के सूजन दिखाई देने को मिलते हैं। जैसे गुर्दे संबंधी रोग में चेहरे पर सूजन आता है। ज्यादा चलने से या दौड़ने से हाथ और पैर में सूजन आता है। kidney संबंधी बीमारी में पेट पर सूजन आ जाता है।अगर आपको भी ऐसी समस्या है तो आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है ।क्योंकि यह एक आम समस्या है यह कुछ घरेलू उपाय तथा normal treatment से ठीक हो जाता है ,इस पोस्ट में आपको हम यही बताने वाले हैं की सूजन में हमें क्या खाना चाहिए, और क्या नहीं खाना चाहिए, क्योंकि सूजन में अधिकतर खानपान के परहेज से ही बचा जा सकता है वह कौन से खाद्य पदार्थ हैं जिन्हें खाना चाहिए और जिन्हें नहीं खाना चाहिए।
  • चीनी sugar से बने हुए पदार्थ अथवा दवाइयो का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे शरबत तथा अनेक मीठी दवाइयां।
  • Fast food नहीं खाना चाहिए क्योंकि fast food के द्वारा शरीर में स्वेलिंग ज्यादा बढ़ती है। फास्ट फूड बोले तो पिज्जा ,बर्गर, चाऊमीन, टिक्की गोलगप्पे इत्यादि।
  • चावल rice कम खाना चाहिए भोजन में हमें रोटी खाना चाहिए क्योंकि रोटी में जो बीमारी वाले कीटाणु होते हैं वह जलकर नष्ट हो जाते हैं जिसके कारण रोटी में कोई बीमारी नहीं होता है।
  • ज्यादा oiley खाना नहीं खाना चाहिए जैसे पूडी पकोड़ा, स्नेक्स,भटूरा, बरा इत्यादि।
  • नमक sault कम से कम खाना चाहिए क्योंकि नमक के द्वारा भी शरीर में शोथ अथवा सूजन बढ़ता है।
  • यदि हमारे शरीर में सूजन है तो हमें चाय tea बिल्कुल भी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि चाय में अनेक बीमारी पाई जाती है तथा इसमें चीनी सूजन के लिए अत्यंत हानिकारक होता है।
  • सूजन में दही curd नहीं खाना चाहिए। क्योंकि कहीं सूजन में अत्यंत हानिकारक होता है।
  • ठंडा भोजन हमें बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए।
  • यदि हमारे शरीर में सूजन है तो मीट मछली बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए ,क्योंकि यह body fat को बढ़ाते हैं।

सूजन में क्या खाना चाहिए sujan me kya khana chahiye

कभी-कभी हमारे शरीर में कोई कुछ कारणों से सूजन हो जाती है इसके अलग-अलग कारण हो सकते हैं जैसे कीड़े मकोड़े के का हीटने से या चोट लगने से या पीलिया जैसी अन्य बीमारी होने से पूरे शरीर में सूजन हो जाता है। कभी-कभी कुछ खाद्य पदार्थों का हम ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं उनके कारण भी सूजन हो जाता है और कुछ बीमारियों की वजह से भी शुरू हो जाता है इसलिए सूजन होने पर हम कुछ खाने पीने वाली वस्तुओं का परहेज करके उनसे छुटकारा पा सकते हैं अन्यथा आपका सूजन बढ़ता ही जाएगा और आप दवा कराते कराते परेशान हो जाएंगे। वह खाद्य पदार्थ कौन से हैं जिनका सेवन करने से हमारे शरीर का सूजन खत्म हो जाता है।
  1. सूजन कम करने के लिए जौ को पानी में उबालकर छान ले और उसका पानी को ठंडा कर कर के जिसके कारण हमारे शरीर में सूजन खत्म हो जाएगी।
  2. धनिया का पत्ता अथवा सूखा धनिया पानी में उबाल ले और इस पानी को ठंडा करके पे कुछ ही दिनों में आपकी शरीर की सूजन खत्म हो जाएगी।
  3. एक गिलास गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी डालकर रोज पिये, दो-चार दिन बाद सूजन समाप्त हो जाएगी।
  4. भोजन में अधिकतर रोटी खाएं चावल कम से कम खाएं जिससे swellin में बहुत आराम मिलेगा।
  5. हरी पत्तियों वाली चाय पीयें, जो body fat घटाने में बहुत कामयाब होते हैं।
  6. भोजन में टमाटर 🍅tomato खाना बहुत ही अच्छा माना जाता है अतः टमाटर ज्यादा से ज्यादा करें अथवा टमाटर का सूप tomato soup पिएं जिससे आपके सूजन में काफी अच्छा resulr  मिलेगा।
  7. काली मिर्च, सोठ , को पीसकर गुड़ के साथ मिलाकर खाने से सूजन में राहत होता है।
  8. सब्जियों में अधिकतर पत्तेदार सब्जियां खाएं क्योंकि पत्तेदार सब्जियों में फाइबर प्रोटीन की मात्रा अत्यधिक पाई जाती है जो हमारे body fat को घटाकर शरीीर में रक्त की वृद्धि करती है।

सूजन होने के कारण reason of swelling

हमारे शरीर में कई तरह की सूजन होते हैं जो अलग-अलग कारणों से हो जाते हैं। सूजन होना एक आम समस्या है ,परंतु किस वजह से सूजन हुआ है यह बहुत ही गंभीर समस्या है क्योंकि सूजन अपने आप में कोई बीमारी नहीं है ,बल्कि यह किसी बीमारी की वजह से सूजन हो जाता है। आप लोगों को मैं यह बताना चाहता हूं कि कौन सी बीमारी में किस तरह का सूजन होता है और कौन-कौन सी जगह सूजन होती है।
  • मधुमक्खी के काटने से जो सूजन होता है वह पूरे शरीर में नहीं होता है बल्कि जिस जगह पर मधुमक्खी है काटती है उसी जगह पर सूजन होता है। इसी तरह कोई भी जीव जंतु या कीड़े मकोड़े यदि काट काट लेते हैं तो सिर्फ उसी जगह सूजन होगी जहां पर कीड़े ने काटा है।
  • कभी-कभी मनुष्य के शरीर में किसी बीमारी के कारण खून की जगह पानी बनने लग जाता है। जिसके कारण उसके शरीर में शोथ हो जाती है और उसका शरीर भारी लगता है परंतु अंदर से वह बहुत ही कमजोर होता है।
  • कभी-कभी कुछ लोग मोटा होने की दवाई खाने लग जाते हैं कि हमारी persnality अच्छी हो हमारा body भरा हुआ तथा गोल मटोल दिखाई दे यह सोच कर मोटा होने की दवाई खाते हैं, जिस के said effect के कारण उनके शरीर में ब्लड की जगह पानी बन जाता है, और उनका शरीर थुल थुला सा हो जाता है।
  • कुछ लोग बर्गर चाऊमीन हॉट डॉग का ज्यादा सेवन करते हैं जिसके कारण उनके शरीर में पानी की मात्रा बढ़ जाती है और चेहरे और पेट पर सूजन हो जाती है। परंतु इनमें दर्द नहीं होता है।
  • हमारे शरीर में कोई चोट लग जाने के कारण उस जगह का मांस तथा त्वचा ऊपर की तरफ भूल जाती है जिसे सूजन कहते हैं।
  • लीवर में सूजन हो जाने के कारण हमारा पेट बाहर की तरफ निकल आता हैं, और थुल थुला सा हो जाता है।
  • शरीर में पीलिया की शिकायत होने पर भी पूरे शरीर में शोथ हो जाता है।
  • ज्यादा cold driks सोडा मीठा पानी का सेवन करने से शरीर में सूजन या शोथ हो जाता है।

हाथ पैर में सूजन और दर्द(hath pair mein Sujan aur Dard)

हाथ पैर में कभी-कभी चोट लगने से या पैर ऊंचा नीचा पड़ जाने से सूजन हो जाती है और दर्द भी होने लग जाता है। यह सूजन आप के दर्द के साथ ही समाप्त हो जाएगी। अक्सर गर्भवती महिलाओं के पैर में सूजन हो जाता है इसमें आपको कोई घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह एक आम problum है ,और अपने आप सही हो जाती है। परंतु बिना किसी वजह के यह भी हाथ और पैर में सूजन होता है तो यह किसी बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। 
  • फाइलेरिया faileriya में पैर में सूजन हो जाती है और दर्द होता है जिसके कारण उसमें पश बन जाता है।और हमें काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि पस बन जाने के बाद इसे निकालने के लिए पैर का ऑपरेशन करना पड़ता है तथा इस पस को निचोड़ कर बाहर निकाल कर उस पर पट्टी किया जाता है। बिना वजह हाथ पैर में सूजन हो रही है,तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए और उस सूजन की वजह जानना चाहिए ताकि अच्छे से इलाज हो सके। 
  • हाथ पैर की सूजन दवा खाने की वजह से भी हो सकती है जैसे dipretion की दवा daybitees की दवा। 
  • कभी-कभी जब हमारी धमनिया रक्त को पूर्ण तरह से नसों में प्रवाहित नहीं कर पाती हैं। तो हाथ पैर में सूजन और दर्द की समस्या हो जाती है। अतः हाथ पैर में सूजन होने पर पहले सूजन की categri का पता करें उसके बाद ही उसका उपचार करना ठीक होता है।
  •  कभी-कभी कोई कार्य करते समय हमारी नशे खींच जाती हैं जिसके कारण हाथ में सूजन हो जाता है।
  •  मांस फट जाने के कारण भी हाथ या पैर में सूजन हो जाता है। यह उसी चोट के साथ-साथ धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है।
  • चोट लगने पर ,हड्डी टूट जाने पर भी हाथ अथवा पैर में जहां चोट लगती है ,उस जगह सूजन हो जाती है।
  • बहुत ज्यादा पैदल चलने से भी पैर में सूजन हो जाती है।
  • ज्यादा देर तक एक जगह बैठे रहने पर भी पैर में सूजन हो जाती है अतः हमें व्यायाम करना चाहिए और दौड़ लगाना चाहिए।

उपचार

  • यदि हमारे पैर में चोट लग जाए और सूजन हो जाए तो उस पर हल्दी और प्याज पीसकर ऊपर से इसे रखकर पट्टी बांधे जिससे सूजन और दर्द बहुत जल्द ही समाप्त हो जाएगी।
  • यदि हाथ पैर में कहीं पर भी नशे खींची जाती हैं या मुड़ जाती हैं उस जगह पर बैगन को आग में भूनकर उसमें थोड़ा नमक डालकर भरता लगा ले और चोट या सूजन वाली जगह पर रखकर पट्टी से बांधे रात भर में सूजन और दर्द गायब हो जाएगी।
  • यदि बिना किसी वजह हाथ और पैर में सूजन है तो आप पानी में थोड़ा नमक और नीम का पत्ता डालकर उबालने उसके बाद हल्का गर्म पानी से सूजन वाली जगह पर सिकाई करें जिससे सूजन बहुत जल्द आराम हो जाएगा।
  • ज्यादा दिनों तक सूजन समाप्त न होने पर अपने डॉक्टर को दिखाएं तथा सूजन की वजह को समझ कर सही इलाज कराएं।
  • अधिकतर प्रोटीन और blud बनने वाले पदार्थ खाएं क्योंकि कभी-कभी कमजोरी की वजह से भी हाथ पैर में सूजन व दर्द होने लग जाता है।

चेहरे की सूजन कम करने के उपाय(chehre ki Sujan kam karne ke upay)

चेहरे की सूजन एक आम समस्या है जो किसी किसी व्यक्ति को अधिकतर होती है। यह समस्या अधिकतर सुबह दिखाई देने को मिलती है। जब हम सो कर उठते हैं तो चेहरा फूला हुआ दिखाई देता है। परंतु थोड़ी देर बाद जब हम टॉयलेट, ब्रश करके मुंह को धो देते हैं, और इधर उधर घूमने फिरने लगते हो तो चेहरे की सूजन धीरे-धीरे समाप्त होने लग जाती है। यह समस्या कुछ कारणों की वजह से हो सकती है।
  • यदि नींद पूरा नहीं होती है तो चेहरे पर थुलथुला सा सूजन हो जाता है।
  • यदि आप नींद 10 से 12 घंटे तक लेते हैं, तो चेहरे पर सूजन की समस्या आ सकती है।
  • पीलिया होने पर चेहरे पर थुलथुलापन और सूजन की समस्या आ जाती है क्योंकि हमारे शरीर का जो खून होता है वह पानी में परिवर्तित हो जाता है ।
  • किडनी kidni  का सही से काम ना करने के कारण जो हमारे शरीर के विषैले पदार्थ होते हैं वह शरीर में ही रह जाते हैं जिसके कारण चेहरे पर swilling आ जाती है।
  • कोई कार्य करते समय चोट लग जाने पर चेहरे पर सूजन आ जाती है।
  • मधुमक्खी ,बर्र आदि जहरीले कीटाणु काट लेने के कारण चेहरे पर सूजन आ जाती है। यह सूजन 2 से 3 दिन में समाप्त हो जाती है।
  • कुछ लोग अपना हेल्थ सुधारने के लिए खानपान नहीं सुधारते हैं बल्कि शॉर्टकट रास्ता ढूंढते हैं।वह है helth medicin। इसे खाने के बाद चेहरे पर सूजन सा महसूस होने लगता है और लगता है की चेहरा मोटा हो रहा है। इसके कुछ उपाय हैं जिनके द्वारा हम इन समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
  • शाम को चीनी का शरबत या कोल्ड ड्रिंक्स पीकर सोने से सुबह चेहरे पर सूजन आ जाता है।
  • आपने देखा होगा कि कभी-कभी चेहरे पर एक साइड में गाल के थोड़ा नीचे अपने आप सूजन और गांठ बन जाती है, दबाने पर यह काफी दर्द भी करती है यह सूजन शरीर से विषैले पदार्थ के एकत्र होने के कारण हो जाती है।

उपचार

  • नींद एक निश्चित समय तक ले जिससे चेहरे पर सूजन की समस्या उत्पन्न ना हो। हमें 24 घंटे में कम से कम 6 घंटा और ज्यादा से ज्यादा 8 घंटा नींद लेना आवश्यक है। यदि हम इसके अतिरिक्त या इससे कम नींद लेते हैं तो हमारे चेहरे पर सूजन की समस्या उत्पन्न हो जाती है।
  • सुबह उठने के बाद मुंह को पानी से अच्छी तरह देर तक धोए जिससे मुंह पर से सूजन समाप्त हो जाएगा।
  • चेहरे पर मसाज करने से सूजन समाप्त हो जाता है।
  • दूध में हल्दी डालकर पीने से चेहरे का सूजन समाप्त हो जाता है।
  • चावल का सेवन कम करें तथा रोटी का सेवन करने से मुंह का सूजन समाप्त हो जाता है।
  • पपीता का सेवन अधिक करें जिससे मुंह का सूजन समाप्त हो जाएगा।
  • डाइट में नमक तथा चीनी का सेवन कम करें जिससे चेहरे की सूजन कम हो जाएगी।
  • बीयर अथवा शराब ना पीने से चेहरे की सूजन में कमी आती है।
  • गाल पर सूजन और दर्द वाली समस्या जिस क्षेत्र में होती है वह एक साथ कई लोगों को होती है। यह समस्या ठीक होने में कम से कम 7 दिन का टाइम लग जाता है। 7 दिन बाद यह अपने आप ठीक हो जाता है इसके लिए आपको घबराने की जरूरत नहीं है। आप चाहे तो इस पर शहद और चूना को मिक्स करके लगाकर बीड़ी का कागज चिपका सकते हैं जिससे सूजन बढ़ेगा नहीं और धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगा।

पेट की सूजन में क्या खाना चाहिए(pet ki Sujan mein kya nahin khana chahie)

यह बात सुनकर तो आपको भी हंसी आएगी की पेट की सूजन में क्या नहीं खाना चाहिए। परंतु सत्य तो यह है कि खाने से ही तो पेट में सूजन होता है। यह अधिकतर तेल मसाले वाली पदार्थ जैसे टिक्की, बर्गर ,मोमोस, पूरी ,समोसे आदि तमाम ऐसे पदार्थ है जो तेल से भरपूर होते हैं ,और लोग इन्हें बड़े ही मजे से खाते हैं परंतु यह नहीं जानते कि यह हमारे पेट के लिए कितना हानिकारक हो सकता है। तले हुए पदार्थ पेट में जाकर bacteeriya  उत्पन्न करते हैं जिनके कारण पेट पर सूजन हो जाता है। कुछ लोग शराब का सेवन ज्यादा करते हैं, जिसके कारण पेट में इंफेक्शन हो जाता है, और पेट पर सूजन तथा ऊपरी हिस्से में हल्का दर्द बना रहता है।उल्टी और जी मचलाने जैसी समस्या बनी रहती है। परंतु देखने वाले करते हैं हां भाई तू तो घणा मोटा हो गया। परंतु जिसके पास यह समस्या है उससे पूछोगे तो पता चलेगा की वह मोटा हो रहा है यह कोई बीमारी से ग्रसित हो रहा है। इस समस्या से हम कुछ घरेलू नुस्खों को आजमा कर छुटकारा पा सकते हैं। पर सूजन की समस्या अधिकतर खान-पान के कारण ही उत्पन्न होती है इसलिए इससे खानपान के जरिए ही इससे निजात मिल सकती है अतः वह कौन-कौन से पदार्थ हैं जिन्हें खाने से पेट की सूजन को कम किया जा सकता है।आइए जानते हैं।
  1. हल्दी में एंटीबैक्टीरियल गुण पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं जो बैक्टीरिया को नष्ट करने में काफी कारगर माना जाता है। अतः एक गिलास गर्म दूध में आधा चम्मच पिसी हुई हल्दी डालकर मिला लें और सुबह शाम इसका सेवन करें जिससे पेट का सूजन समाप्त हो जाएगा।
  2. कच्चे लहसुन को छीलकर शहद के साथ खाएं इससे पेट की सूजन में काफी आराम मिलता है।
  3. अदरक के टुकड़े को अच्छी तरह पीसकर पानी में उबाल लें तथा इसे छान का पानी को पीने इससे पेट की सूजन में काफी राहत मिलती है।
  4. एक पतीले में  चावल को उबाल ले था इसके पानी में शहद डालकर प्रतिदिन सेवन करने से swelling धीरे-धीरे समाप्त होने लग जाती है।
  5. एक गिलास पानी में लोंग के चार पांच दाने डालकर उबालने तथा इस पानी को हल्का गर्म है धीरे-धीरे पियें ।जिसके कारण सूजन में आराम मिलेगा।
  6. जो को पानी में उबाल लें तथा छानकर इस पानी को ठंडा करके पिए जिससे सूजन में राहत आएगी।
  7. Oiley तथा fast food का सेवन ना करें।
  8. पके हुए पपीता का सेवन ज्यादा करें क्योंकि पपीता पेट को साफ करता है और कब्ज तथा एसिडिटी से आराम दिलाता है।
  9. बैक्टीरिया को नष्ट करने में नीम से अच्छी और सस्ती दवाई और कोई नहीं है अतः आपको यदि पेट में सूजन है तो नीम के हरे पत्तों को पीसकर उनकी छोटी-छोटी गोलियां बनाकर धूप में सुखा लें और दो गोली सुबह तथा दो गोली शाम को पानी के साथ निकल ले जिसके कारण पेट की बैक्टीरिया धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगी और उसी के साथ sweling भी समाप्त हो जाएगी। आप चाहे तो हरे पत्ते को चबाकर भी खा सकते हैं।
  10. पेट के सूजन में दही खाने से सूजन में काफी राहत मिलता है क्योंकि क्योंकि दही से infection वाले कीटाणु नष्ट हो जाते हैं जिससे सूजन में काफी आराम मिलता है।

सूजन का उपचार Sujan ka upchar

यदि हमारे शरीर में सूजन हो जाए तो हमें किन किन उपायों के द्वारा इनका उपचार करना चाहिए यही सवाल का जवाब आप लोग हमारे इस पोस्ट में जानेंगे सूजन एक आम समस्या है इसका उपचार अधिकतर घर के छोटे-मोटे खाने पीने वाली वस्तुओ के द्वारा हो जाता है। और घर पर ही बहुत आसानी से प्राप्त हो जाता है।
  • सूजन का उपचार करने से पहले सूजन की कैटेगरी को जानना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि कैटेगरी को जाने बिना उचित इलाज नहीं हो सकता है।
  • यदि हमारे शरीर में कहीं चोट अथवा कोई कीड़ा या मधुमक्खी के काटने से सूजन हो जाती है तो हमें उस चोट का और दर्द का इलाज करना चाहिए क्योंकि उस दर्द और चोट के साथ ही साथ सूजन भी समाप्त हो जाती है।
  • यदि आपका हाथ पैर मुंह पेट सब कुछ बेवजह फूल रहा है तथा तुल तुला हो रहा है तो आपको डॉक्टर को दिखाना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि यह किसी बीमारी का लक्षण हो सकता है।
  • किसी फोड़ा फुंसी होने पर जो सूजन होता है। वह ऑपरेशन के द्वारा ठीक होता है।
  • हड्डी टूट जाने पर होने वाला सूजन प्लास्टर बनने पर या सर्जरी के बाद हड्डी टूट जाने पर समाप्त होता है।
  • यदि आप की हड्डी पहले से टूटी हुई है और उस पर सूजन हो रहा है तो उस हाथ या पैर पर वजन कम दें। इससे आपके हाथ अथवा पैर में सूजन नहीं होगा।
  • काली मिर्च को बारीक पीसकर मक्खन के साथ मिलाकर खाने से सूजन में काफी आराम मिलता है।
  • प्रतिदिन व्यायाम करने से सूजन की समस्या से छुटकारा मिलता है। क्योंकि व्यायाम के द्वारा हमारे शरीर के सभी नसे तेज चलने लग जाती हैं जिससे विषैले पदार्थ के  थक्के नहीं जम पाते हैं और सूजन की समस्या नहीं आती है।
  • पानी में नमक डालकर पानी को अच्छी तरह से उबाल लें और जब वह हल्का गर्म रह जाए तो  की coten मदद से सूजन वाली जगह पर सिकाई करें जिससे सूजन में काफी आराम मिलेगा।
  • यदि पूरे शरीर में सूजन है तो नीम की पत्तियां डालकर पानी को उबालने तथा बिना साबुन लगाए हुए उस पानी से स्नान करें जिससे सूजन उतरने लग जाता है।
  • आलू खाने से सूजन में काफी आराम मिलता है या आलू को काटकर पानी उबाल ले जब आलू थोड़ा ठंडा हो जाए उससे सूजन वाली जगह पर सिकाई करें इससे सूजन में राहत आएगी।
  • सूजन होने पर एंटीबायोटिक दवाओं का इस्तेमाल करें इससे सूजन के इन्फेक्शन वाले कीटाणु समाप्त हो जाएंगे और सूजन में काफी राहत मिलेगी।
  • धनिया का पत्ता या सुखा धनिया को पानी में उबाल लें तथा इसे छानकर इसके पानी को प्रतिदिन पीने से स्वेलिंग कम हो जाती है।
  • सूजन के दौरान चीन तथा नमक का इस्तेमाल कम से कम करें।
  • एक कटोरी में सरसों का तेल musterd oil लेकर उसमें कुछ लहसुन के कली डालकर इसे अच्छे से गर्म करें और इस तेल को सूजन वाली जगह पर मालिश करें इससे सूजन में काफी लाभ होता है।
  • हरी पत्तियों वाली चाय पीने से सूजन में काफी लाभ होता है।
  • अधिकतर प्रोटीन और फाइबर से युक्त खाद्य पदार्थ खाना चाहिए जैसे पत्तेदार सब्जियां अंडे अरहर की दाल इत्यादि।
  • मीट हमें नहीं खाना चाहिए यदि खाएं भी तो ताजा meet खाना चाहिए प्रोसैस्ड मीट नहीं खाना चाहिए।
  • भोजन हमें गरम खाना चाहिए बांसी अथवा ठंडा भोजन नहीं खाना चाहिए।
  • सोठ को बारीक पीस लें तथा गुड के साथ मिलाकर खाएं इससे सूजन आराम हो जाएगा।
  • हेल्थ बनाने के लिए किसी प्रकार की दवाओं का उपयोग ना करें क्योंकि यह दवाएं शरीर पर काफी said effect डालती हैं जिसके कारण खून कम और पानी ज्यादा हो जाता है और शरीर पर सूजन हो जाता है।

सूजन कम करने की दवा Sujan Kam Karne ki dava

इस आर्टिकल में आपको अभी तक अनेक घरेलू उपचार तथा नुस्खे हमने बताया जिनका उपयोग करके आप सूजन की कोई भी समस्या का समाधान पा सकते हैं। परंतु कुछ लोगों को घरेलू नुस्खा और घरेलू दवाइयों पर विश्वास नहीं होता है और उन्हें अस्पताल दिखा मेडिकल के चक्कर काटना पड़ता है। परंतु अब आपको अस्पताल का चक्कर काटने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि मैं आप लोगों के लिए कुछ होम्योपैथिक तथा अंग्रेजी दवाइयों का लिस्ट लेकर आए हैं जिनकी मदद से आप लोग अपने शरीर के किसी भी अंग में किसी भी कैटेगरी के सूजन से छुटकारा पा सकते हैं। परंतु ध्यान रहे इन दवाइयों का उपयोग करने से पहले आप डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। क्योंकि सुजन की कैटेगरी का पता नहीं लगता है तो यह दवाएं आपको नुकसान भी पहुंचा सकती हैं।
  1. Inflammation drop ( r1 drop) यह एक होम्योपैथिक दवा है। इसे जर्मन कंपनी के द्वारा बनाया गया है इस drop का इस्तेमाल सूजन में काफी लाभदायक होता है। यह ड्रॉप यदि बच्चे को खिला रहे हैं तो दो से तीन बूंद एक कटोरी पानी में डालकर पिलाएं यदि इससे ऊपर के लोग पी रहे हैं तो 5 से 7 बूंद तक पी सकते हैं। यह drop सभी प्रकार के सूजन जैसे गले में सूजन चेहरे पर सूजन, फोड़ा फुंसी की वजह से सूजन किसी घाव की वजह से सूजन और दर्द आदि मैं काफी कारगर सिद्ध होता है।
  2. Amoxcin tablet 625mg यदि आपका सूजन पुराना हो गया है काफी दिनों से उपचार करने के बाद ही सूजन कम नहीं हो रहा है तो आप amoxcin 625mg टेबलेट के द्वारा सूजन को दूर कर सकते हैं। यह एक एंटीबायोटिक्स दवाई है। इसे दिन में तीन बार या दो बार खाना चाहिए। इसके उपयोग के लिए आप डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।
  3. Noorament cream को सूजन वाली जगह पर मालिश करें। यह 1 ट्यूब सी होती है जिसमें क्रीम होता है यह सूजन तथा दर्द पर बहुत ही असरदार साबित होता है , और किसी भी मेडिकल स्टोर पर आप को बड़ी आसानी से प्राप्त हो जाएगा।
  4. नूरानी तेल को सूजन वाली जगह पर मालिश करें। यह सीसी में लाल रंग का तेल होता है जो चोट या सूजन वाली जगह पर मालिश करने पर 5 मिनट के अंदर राहत पहुंचाता है। इससे घाव पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  5. Sistal fort teblet यह टेबलेट सूजन को कम करने में काफी कारगर मानी जाती है। Sistal forte tablet का इस्तेमाल शरीर के कहीं भी किसी भी अंग के सूजन में किया जा सकता है। परंतु इसके इस्तेमाल करने से पहले इसके dose कुछ समझने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  6. Zerodol sp teblets का इस्तेमाल सूजन और दर्द में किया जाता है। इसका इस्तेमाल घुटनों में सूजन जोड़ों में सूजन और दर्द दांत में सूजन और दर्द में काफी कारगर होता है।
  7. Thrombofob cream सूजन तथा किसी प्रकार की गांठ बन जाने पर इस क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है। यदि शरीर में किसी जगह पर चोट की वजह से गांठ बन जाती है तो thrombofob cream को उस जगह पर aplay करें और धीरे-धीरे होने से दबाते हुए मसाज करें जिससे गांठ गलने लग जाता है और दर्द धीरे-धीरे आराम हो जाता है। यह क्रीम सूजन गांठ और दर्द में बहुत ही कारगर माना जाता है। यह क्रीम अप्लाई करने से पहले यह ध्यान रखें कि इससे से प्रभावित क्षेत्र पर ही लगाएं अन्यथा यह त्वचा को लाल कर देता है और जलन होने लगता है क्योंकि इस क्रीम में बहुत ज्यादा गर्म आहट होती हैजो दर्द और सूजन को खत्म करने में बहुत कारगर होती है।
  8. Thrombofob injection सूजन कम करने के लिए काफी कारगर होता है इसका इस्तेमाल बिना डॉक्टरी सलाह के ना करें अथवा कुछ मामले में यह शरीर में said effect  कर सकता है।
  9. Omnijel लगाने से शरीर में चोट तथा सूजन से राहत होती है। या आपको आपके नजदीक ही कोई भी मेडिकल स्टोर पर प्राप्त हो जाएगा।
  10. झंडू बाम के द्वारा चोट मोच अथवा सूजन में लगाने पर लाभ होता है।
  11. मूव क्रीम तथा स्प्रे लगाने पर चोट और सूजन में काफी आराम मिलता है।

पतंजलि सूजन की दवा Patanjali Sujan ki dava

आयुर्वेद की दुनिया में पतंजलि का नाम सबसे ऊपर है। पतंजलि कंपनी के प्रोडक्ट काफी लाभदायक सिद्ध होती है क्योंकि यह बाबा रामदेव के द्वारा बनाए गए नुस्खों पर आधारित होती है। आज के समय और भारत की लगभग 50% जनसंख्या बाबा रामदेव द्वारा बताए गए योग साधना और पतंजलि के प्रोडक्ट के सेवन से काफी निरोग और स्वस्थ हो रहे हैं। यदि आपको सूजन की समस्या है और अंग्रेजी दवाइयां यूज़ नहीं करना चाहते हैं तो मैं आप लोगों के लिए पतंजलि के प्रोडक्ट की लिस्ट भी लेकर आया हूं जिनके द्वारा आप आयुर्वेद का सहारा लेकर स्वेलिंग की समस्या को सुलझाने में कामयाब हो सकते हैं।
  1. Punarnavarist  पतंजलि का प्रोडक्ट है। इसको पीने से किडनी की समस्या दूर होती है और शरीर में जो भी सूजन होगा वह समाप्त हो जाती है।
  2. दिव्या पुनर्नवादि मंडूर Divya punarnavadi mandur गोली का प्रतिदिन सेवन करने से सूजन में काफी लाभ होता है। यह गोली तमाम आयुर्वेद कंपनियां बनाती हूं परंतु पतंजलि कंपनी पर ट्रस्ट होने के कारण लोग इसका इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करते हैं।
  3. चंद्रप्रभा वटी का सेवन करने से faileriya में होने वाले सूजन से काफी आराम मिलता है।
  4. यदि आपके शरीर में सूजन है तो वरुण छाली को धूप में सुखाकर पीसकर पाउडर बना लें और सुबह शाम एक एक चम्मच गर्म पानी के साथ खाने इससे आपके शरीर में होने वाला कोई भी सूजन खत्म हो जाएगा। यह बहुत ही आसानी से कोई भी पतंजलि स्टोर पर मिल जाएगा।
  5. आरोग्य वटी के द्वारा पेट का सूजन की समस्या से छुटकारा मिल जाता है क्योंकि इसमें नीम और तुलसी तथा गिलोय को पीसकर गोलियां बनाई जाती है। यह हमारे शरीर के लिए काफी लाभदायक होता है क्योंकि तुलसी और नींद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो शरीर के अंदर की बैक्टीरिया को समाप्त करते हैं और इससे पेशाब की थैली में सूजन ,आंत की सूजन समाप्त हो जाती है।
  6. सूजन के लिए दशमूलारिष्ट प्रतिदिन पीना चाहिए जो हमारे खून को साफ करके उसके नसों के प्रवाह को तेज करता है जिसके कारण खून के थक्के नहीं जम पाते हैं और सूजन धीरे-धीरे समाप्त हो जाता है।

निष्कर्ष conclusion

संपूर्ण पोस्ट पढ़ने के बाद हमें यह देखने को मिलता है कि इस पोस्ट में सूजन के बारे में तमाम ऐसी आयुर्वेदिक दवाएं घरेलू नुस्खे तथा अंग्रेजी दवाओं के बारे में पढ़ा और यह जानकारी हुआ की सूजन क्या है और किस किस कारण से होता है तथा इसको दूर करने के लिए हमें कौन-कौन से उपाय करने चाहिए। संपूर्ण पोस्ट में हमें जो जानकारी मिली है उन दवाओं के द्वारा हम अपनी सूजन को रोकने में तथा ठीक करने में कामयाब हो सकते हैं अथवा ना ठीक होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं ।इसे और अच्छे से समझने के लिए मैं आपको कुछ प्रश्न उत्तर के माध्यम से समझा रहा हूं।
प्रश्न -1-सूजन किसे कहते हैं?
उत्तर-हमारे शरीर में जब किसी जगह की खाल और मांस ऊपर की तरफ उठ जाती है तथा दबाने पर रुई की तरह महसूस होने लगता है। और थुलथुला सा हो जाता है। और गोरा होने के साथ-साथ हल्की खुजलाहट, और दर्द महसूस होती है उसे सूजन कहते हैं।
प्रश्न- 2-सूजन मैं क्या-क्या नहीं खाना चाहिए?
उत्तर-सूजन में नमक और चीनी तथा बासी भोजन नहीं खाना चाहिए।
प्रश्न 3-सूजन किस कारण से हो जाता है?
उत्तर-सूजन होने के अनेक कारण होते हैं, चोट लगने से बिच्छू ,मधुमक्खी आदि कई प्रकार के कीड़ों के काटने से पीलिया होने पर डायबिटीज होने पर फाइलेरिया होने पर तथा अन्य कारणों से भी सूजन हो जाती है। अगर इन कारणों में से आपको कोई कारण नजर नहीं आ रहा है तो इसके लिए आपको मेडिकल चेक अप कराना अत्यंत आवश्यक है।
प्रश्न 4-सूजन पर लगाने वाली क्रीम का क्या नाम है?
उत्तर-सूजन पर लगाने वाली क्रीम का नाम नूरामेंट , तथा थ्रोंबोफोब है।
प्रश्न 5-सूजन में क्या क्या खाना चाहिए?
उत्तर-सूजन में पपीता तथा गर्म पानी में हल्दी डालकर पीना चाहिए, और भोजन में अधिक से अधिक रोटी खाना चाहिए।
प्रश्न -6-सूजन को समाप्त करने के घरेलू उपचार कौन-कौन हैं।
उत्तर-सूजन को दूर करने के लिए जो को उबालकर उसका पानी पी जिस से सूजन समाप्त हो जाता है।
प्रश्न 7-सूजन को समाप्त करने के लिए अंग्रेजी दवा कौन सी है?
उत्तर-सूजन को खत्म करने के लिए अंग्रेजी दवा का नाम amoxcin 625mg teblet है।
प्रश्न 8-सूजन को समाप्त करने के लिए पतंजलि आयुर्वेदिक दवाई कौन सी है?
उत्तर-सूजन को समाप्त करने के लिए पतंजलि आयुर्वेदिक दवाई पुनर्नवादि मंडूर गोली तथा दशमूलारिष्ट है।
Disclaimer
अपनी योग्यता अनुसार तथा पर्सनल एक्सपीरियंस के द्वारा हमने यह आर्टिकल लिखा है इसमें दी गई कोई भी दवा अथवा नुस्खों का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर का सलाह अवश्य ले। क्योंकि यह आर्टिकल मैंने आप लोगों के जानकारी को बढ़ाने के उद्देश्य से लिखा है ना कि इसके उपयोग के लिए। यदि आप उसके बावजूद भी इसका सेवन करते हैं तो इसके साइड इफेक्ट अथवा रिएक्शन के जिम्मेदार खुद होंगे इसमें हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button