Health

ashwagandha ke fayde aur nuksan in Hindi.rstbox. अश्वगंधा के फायदे और नुकसान

 ashwagandha ke fayde aur nuksan in Hindi.rstbox. अश्वगंधा के फायदे और नुकसान

नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट पर आपका बहुत-बहुत स्वागत है आज के पोस्ट में हम हेल्थ helth से रिलेटेड पोस्ट लेकर आए हैं जो आपके लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण और होने helpful साबित होने वाला है आज का हमारा पोस्ट है कि अश्वगंधा के क्या-क्या फायदे होते हैं ?और क्या-क्या नुकसान होते हैं? अतः इसके बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे वेबसाइट पर शुरू से अंत तक बने रहें ताकि कोई भी जानकारी मिस ना हो। अश्वगंधा का नाम आप लोगों ने सुना ही होगा यह चूर्ण और गोली के रूप में किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर पर बड़ी ही आसानी से आपको प्राप्त हो जाता है परंतु सबसे बड़ी बात तो यह है कि बहुत लोगों को यह नहीं पता होता है कि इसके क्या क्या फायदे होते हैं ?और क्या-क्या नुकसान होती है? जिसके कारण बहुत ज्यादा परेशानी का सामना करते हैं अतः आज मैं आप लोगों को अश्वगंधा के अनेक प्रकार के फायदे तथा इसके खाने के सही तरीके और इसकी क्या क्या नुकसान होते हैं इनके बारे में मैं आप लोगों को पूरी जानकारी देना चाहूंगा अतः हमारे पोस्ट को आप लोग ध्यान से पढ़ें।

अश्वगंधा के फायदे profit of Ashwagandha

अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक दवा है जो किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर पर बड़ी ही आसानी से प्राप्त हो जाता है। अश्वगंधा बहुत कारगर दवा है जो मानव जीवन के लिए अमृत का काम करता है। अश्वगंधा हमें बड़ी से बड़ी बीमारियों से छुटकारा दिलाने में काफी ज्यादा कारगर सिद्ध हुआ है जिसके कारण यह अत्यधिक प्रसिद्ध और गुणकारी आयुर्वेदिक दवा है अतः आज मैं आप लोगों को अश्वगंधा के अनेक प्रकार के फायदे बताने जा रहा हूं जो निम्नलिखित है।
  • अश्वगंधा शरीर की विकास में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होता है इसलिए यदि कोई व्यक्ति अपने शरीरकी हाइट बढ़ाना चाहता है तो अश्वगंधा का सेवन करने से काफी ज्यादा मदद मिल जाती है।
  • अश्वगंधा के सेवन करने से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी में काफी ज्यादा लाभ मिलता है इसके सेवन से कैंसर के सेल्स बनने बंद हो जाते हैं जिसके कारण कैंसर विकसित नहीं हो पाता है और आप बड़ी ही आसानी से कैंसर को समाप्त करने में कामयाब हो सकते हैं।
  • अश्वगंधा के द्वारा शरीर की इम्यूनिटी बनी हुई रहती है इसलिए भैया आज कॉल करो ना का समय चल रहा है इसलिए आज के समय में अश्वगंधा एक बहुत ही उपयोगी दवा है जो हमें इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाकर कुरौना तथा अनेक प्रकार की बीमारियों से बचाता है।
  • अश्वगंधा के सेवन से महिलाओं में सफेद पानी वाली बीमारी में काफी ज्यादा लाभ मिलता है जिससे बच्चेदानी काफी ज्यादा मजबूत हो जाता है।
  • अश्वगंधा के द्वारा विटामिन B12 की कमी को पूरा किया जाता है जिसके कारण भरपूर मात्रा में नींद आने लग जाती है और नींद ना आने की समस्या का समाधान हो जाता है।
  • अश्वगंधा के सेवन से मानसिक तनाव जिसे अंग्रेजी में डिप्रेशन भी कहा जाता है जो एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है इस बीमारी के द्वारा व्यक्ति आत्महत्या भी कर लेता है अतः अश्वगंधा का सेवन करने से डिप्रेशन में काफी ज्यादा लाभ प्राप्त होता है।
  • अश्वगंधा का प्रतिदिन सेवन करने से आंखों की रोशनी में वृद्धि होती है अतः जब आपको लगे कि हमारी आंखों की रोशनी कम होने लगी है तो आप अश्वगंधा का सेवन अवश्य करें जिससे आप को बड़ी ही जल्द इसके फायदे दिखने लग जाएंगे।
  • अश्वगंधा यौन शक्ति बढ़ाने में काफी ज्यादा कारगर माना जाता है जिससे तमाम पुरुष अपनी युवा शक्ति बढ़ाने के लिए अश्वगंधा का इस्तेमाल करते हैं।

अश्वगंधा के नुकसान said efect of ashwagandha

अश्वगंधा अनेक प्रकार के गुणों से भरपूर होते हुए भी नुकसान से परे नहीं है हमारे कहने का तात्पर्य यह है कि जिस प्रकार से अश्वगंधा के अनेक प्रकार के गुण पाए जाते हैं उसी प्रकार इसके खुराक को ना समझ पाने की वजह से अनेक प्रकार के नुकसान भी हैं जो अत्यंत घातक सिद्ध होते हैं। अतः अश्वगंधा का सेवन करने से पहले इसका नुकसान को अवश्य ध्यान दें क्योंकि यदि इसकी सही मात्रा में उपयोग किया जाए तो इसके गुणों को प्राप्त किया जा सकता है अन्यथा यह हमारे सहयोग के लिए घातक हो सकते हैं अश्वगंधा से होने वाले नुकसान निम्नलिखित हैं।
अश्वगंधा एक प्रकार की आयुर्वेदिक दवा है जिसका इस्तेमाल यदि अधिक हो जाए तो पेट खराब होने की समस्या उत्पन्न हो जाती है कहने का मतलब यह है कि इसके खुराक ज्यादा हो जाने से डायरिया जैसी गंभीर बीमारी जन्म ले सकती है।
  • अश्वगंधा का उपयोग लंबे समय तक करने से बुखार तथा सिर दर्द की समस्या भी जन्म ले सकती है इसलिए बिना डॉक्टर की सलाह की इसका उपयोग ना करें।
  • अधिक दिनों तक इसका सेवन करने से लीवर खराब होने की भी आशंका बनी रहती है इसलिए इसका खुराक समझकर इसका इस्तेमाल करें।
  • लो ब्लड प्रेशर वाले मरीजों को अश्वगंधा का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए अन्यथा यह अत्यंत घातक सिद्ध हो सकता है।
  • अश्वगंधा की तासीर गर्म होती है अतः इसका उपयोग अधिकतर ठंडी के मौसम में ही करें अन्यथा गर्मी में यह आपके लिए नुकसानदायक भी हो सकता है।

अश्वगंधा का इस्तेमाल कैसे करें ashvgandha ka istemal kaise karen

वैसे अश्वगंधा का नाम कौन नहीं जानता है क्योंकि आयुर्वेद की दुनिया में अश्वगंधा बहुत ही उपयोगी और लाभकारी दवा माना जाता है परंतु इसका इस्तेमाल किस प्रकार किया जाता है यह बहुत कम ही लोगों को ज्ञात होता हैअतः आज मैं आप लोगों को पूरी जानकारी देना चाहता हूं कि अश्वगंधा का इस्तेमाल किस प्रकार किया जाता है जिससे हमारे शरीर पर कोई साइड इफेक्ट ना पड़े।
  • अश्वगंधा चूर्ण के रूप में इस्तेमाल किया जाता है जिससे आप दूध में मिलाकर खाली पेट भी ले सकते हैं तथा खाना खाने के बाद भी ले सकते हैं। कुछ लोगों को खाली पेट लेने से परेशानियां होने लग जाती हैं तो आप खाना खाने के बाद अश्वगंधा कि चोरों को एक गिलास दूध में एक चम्मच चूर्ण मिलाकर पीने से काफी ज्यादा फायदा मिलता है।
  • बाजार में अश्वगंधा की चूर्ण गोली तथा अश्वगंधा चाय और अश्वगंधा कैप्सूल तथा अश्वगंधा का रस भी मिलता है अतः आप जिस प्रकार भी उपयोग करना चाहे बड़ी आसानी से आप अश्वगंधा का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • आप अश्वगंधा चाय का इस्तेमाल करके चाय के साथ ले सकते हैं।
  • यदि चूर्ण खाने में आपको कोई परेशानी हो रही हो तो आप अश्वगंधा कैप्सूल बड़ी आसानी से खा सकते हैं जिससे आपको कोई भी परेशानी नहीं होगी।

अश्वगंधा में परहेज ashvgandha mein parhez

अश्वगंधा एक बहुत ही गुणकारी दवा है जो हमें तमाम गंभीर से गंभीर बीमारियों से निजात दिलाता है। परंतु कुछ ऐसी परिस्थितियां भी हैं जो कुछ स्थितियों में अश्वगंधा का परहेज भी करना चाहिए अन्यथा वह हमारे लिए घातक सिद्ध हो सकते हैं। अतः किन किन परिस्थितियों में अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए आइए जानते हैं।
  • अश्वगंधा की तासीर काफी ज्यादा गर्म होती है इसलिए अश्वगंधा का सेवन गर्भवती महिलाओं को बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। यदि गर्भवती महिलाएं इसका सेवन कर रही होती हैं तो गर्भ गिरने का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है।
  • यदि आप पेट की समस्या से परेशान हैं अर्थात यदि आपको डायरिया पेचिश दस्त की समस्या है तो आप अश्वगंधा का सेवन बिल्कुल भी ना करें क्योंकि इसकी तासीर अत्यधिक गर्म होती है जो आपके पेट के सिस्टम को और भी खराब कर सकता है।
  • लो ब्लड प्रेशर वाले व्यक्तियों को अश्वगंधा का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके इस्तेमाल से ब्लड प्रेशर और भी लोग हो सकता है जिससे मरीज की जान जाने की भी संभावना काफी ज्यादा हद तक बढ़ जाती है इसलिए ब्लड प्रेशर के मरीज को बिल्कुल भी अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए।

अश्वगंधा कितने दिन तक खाना चाहिए? Ashwagandha kitne din tak khana chahie

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो अश्वगंधा का सेवन तो करते हैं परंतु उनको यह नहीं पता होता है कि अश्वगंधा का सेवन लगभग कितने दिन तक करना चाहिए इसलिए आज मैं आप लोगों को पूरी जानकारी देना चाहता हूं कि अश्वगंधा का सेवन कितने दिनों तक करना चाहिए? अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक दवा है यदि आपको किसी भी प्रकार की समस्या है जैसे आपकी हाइट नहीं बढ़ रही है आपको नींद नहीं आ रही है ऐसी स्थिति में आप अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं अश्वगंधा का सेवन 2 से 4 ग्राम तक प्रतिदिन लगभग 1 साल तक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं लंबे समय तक इसका इस्तेमाल हानिकारक सिद्ध हो सकता है इसलिए आप 1 साल तक इसका इस्तेमाल करें तथा इसके फायदे और नुकसान पर गौर करें।

अश्वगंधा कौन सी कंपनी का अच्छा होता है ashvgandha kaun si company ka achha hota hai

अश्वगंधा इस्तेमाल करने से पूर्व यह जांच कर लेना अत्यंत आवश्यक है कि अश्वगंधा असली है या नकली है क्योंकि बाजार में तमाम ऐसे दुकानें भी होती हैं जो नकली अश्वगंधा को असली बताकर बहुत सारे पैसे ठग लेते हैं और आप सोच रहे होते हैं कि इसे खाने से फायदा क्यों नहीं हो रहा है इसलिए इस बात का ध्यान रखना सबसे आवश्यक है कि कौन सी कंपनी का अश्वगंधा इस्तेमाल किया जाए जिससे पूरी मात्रा में इसका लाभ मिल सके। अश्वगंधा डाबर बैद्यनाथ, और पतंजलि कंपनी का ही इस्तेमाल करें इसके अलावा आप हिमालया कंपनी का भी ले सकते हैं क्योंकि यह कंपनी भी अधिकतर मात्रा में ओरिजिनल दवाइयां हम लोग को प्रोवाइड कराती है।

निष्कर्ष conclusion

संपूर्ण पोस्ट पढ़ने के पश्चात यह निष्कर्ष निकलता है कि अश्वगंधा एक बहुत ही अच्छी और कारगर आयुर्वेदिक दवा है जिसके इस्तेमाल के द्वारा अनेक प्रकार की बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है अश्वगंधा के इस्तेमाल के द्वारा पुरुषों में योन शक्ति भी बढ़ जाती है जिससे वह स्त्री सुख का पूर्ण रूप से आनंद ले पाते हैं। अश्वगंधा का सही इस्तेमाल के द्वारा अनेक प्रकार के फायदे कब प्राप्त किया जा सकता है जैसा कि आप लोगों ने हमारे इस पोस्ट में पड़ा है अश्वगंधा में अनेक गुणों के होने के बावजूद भी इसमें अनेक प्रकार के नुकसान है अतः इनके नुकसान से बचने के लिए हमें डॉक्टर की सलाह देना अत्यंत आवश्यक है ताकि उनके खुराक और समय को समझा जा सके जिससे हमें पूर्ण रूप से फायदा प्राप्त हो सके। अतः आज की पोस्ट में हमने अश्वगंधा के फायदे और नुकसान तथा इसके इस्तेमाल करने की विधि को बड़ी ही विधिवत तरीके से समझ लिया है।
Disclamer
यह पोस्ट लिखने का मुख्य आशय सिर्फ सार्वजनिक जानकारी है। इस पोस्ट में बताए गए दवा या अश्वगंधा का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह से ही करें अन्यथा इससे अनेक प्रकार के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं जैसा कि आप लोगों ने हमारे पोस्ट पढ़ लिया है अतः यदि आप मनमानी तरीके से इसका इस्तेमाल करते हैं तो इसके जिम्मेदार आप स्वयं होंगे हमारी इसमें कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button